Thursday, April 4, 2013


ख़ामोशी से जो इश्क का इज़हार हो जाये
दिल ना टूटे किसी का और प्यार हो जाये

- रोली


No comments:

Post a Comment