सुर्खी गुलाब की.....
उस परिंदे के लहू से है,
अपने इश्क के खातिर गुल को,
सुफैद से लाल कर दिया जिसने....

-रोली ...

Comments

  1. Beautifullllllll.....

    ReplyDelete
  2. Thanks........ Who are you? please let me know your good name.

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

सुहाना सफर

गर्मी की छुट्टियां

कश्मीर की सरकार से गुहार..

मेरी नन्ही परी....

जय माता दी.....

यात्रा-वृत्तांत......

वसुंधरा......

तन्हाई

स्मृति-चिन्ह