Monday, August 6, 2012

अजब सी फितरत से निभाई उल्फत उसने,
चाहता बहुत हूँ तुम्हें पर, जताता मै नहीं........
लबों तक बात आती है मोहब्बत की मेरे ,
तुम तो मेरी हो, ये सोच कर बताता मै नहीं........

1 comment:

  1. Pyar pyar hota hai..chahe bata do chahe chhuppa lo...

    ReplyDelete